Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़वेब सीरीजHeeramandi tajdar aka shah shah talks about his struggling days, read

हीरामंडी के ताहा शाह बॉलीवुड पार्टीज़ में बनाते थे कांटेक्ट, ऑडिशन देने के लिए भी देने पड़ते थे पैसे

  • हीरामंडी के ताजदार उर्फ़ ताहा शाह पिछले 14 सालों से इंडस्ट्री में अपने पैर जमाने के लिए मेहनत कर रहे थे। एक दिन में 40 फोन कॉल्स कर कास्टिंग डायरेक्टर्स से मांगते थे काम। कई बार लूटे गए।

Usha लाइव हिन्दुस्तानWed, 15 May 2024 09:39 PM
हमें फॉलो करें

संजय लीला भंसाली में ताजदार का किरदार निभा कर मशहूर हुए एक्टर ताहा शाह ने अपने स्ट्रगल के दिनों को याद कर कई ऐसे खुलासे किए हैं जिस पर यकीन करना मुश्किल है। ताहा लंबे समय से इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान के लिए मेहनत कर रहे थे। लेकिन 14 साल के लंबे स्ट्रगल नहीं मिला जहां वो पहुंचना चाहते थे। यहां तक कि एक्टर पैसे दे कर ऑडिशन के लिए जाते थे जहां उनके साथ कई बार फ्रॉड हुआ। यहां तक कि बॉलीवुड पार्टीज एम् भी एक्टर कांटेक्ट बनाने जाते थे जिससे उन्हें काम मिल सके।

पार्टीज़ में कांटेक्ट बनाने जाते थे ताहा

इंस्टेंट बॉलीवुड को दिए इंटरव्यू में ताहा ने कहा, ‘मैं इसे कैमरे पर कहता हूं, मैं कांटेक्ट बनाने के लिए पार्टियों में जाता हूं। इससे तुरंत मदद नहीं मिली, लेकिन अब, हर कोई मेरा फोन उठाएगा। मैंने कास्टिंग डायरेक्टर्स को फोन करने की कोशिश की और छह साल तक उन्होंने मेरा फोन नहीं उठाया।' आगे एक्टर ने कहा कि वो अपने कैलेंडर पर लोगों के नाम लिख कर रखते थे जिससे अगले दो हफ़्तों में फिर से फोन कर काम के बारे पूछ सकें। एक्टर ने बताया वो काम पाने के लिए इतने पागल थे कि एक दिन में 40 कॉल करते थे। लेकिन उन्हें कहीं से काम नहीं मिला।

कई बार हुआ धोखा

ताहा शाह ने आगे बताया कि एक रोल के लिए 13 घंटे लाइन में लगे रहे। अंत में जब वो रोल मिला तो उन्हें छोड़ना पड़ा क्योंकि उन्हें चार साल का कॉन्ट्रैक्ट साइन करना था। एक्टर ने ये भी माना कि कई बार वो 10 हज़ार, कभी 7 हजार ऑडिशन देने के लिए दे देते थे। अंत में उन्हें पता चलता था कि ये तो उनके साथ फ्रॉड हुआ है। इतने के बाद भी ताहा शाह ने हार नहीं मानी और लगातार काम के लिए कोशिश करते रहे। अब हीरामंडी से एक्टर की किस्मत बदल गई है।

ऐप पर पढ़ें
link: zz